ए पी जे अब्दुल कलाम बायोग्राफ़ि हिन्दी, (उपलब्धियां, आविष्कार, परिवार, मौत कब और कैसे)

आज के इस पोस्ट में आप सभी को dpj abdul kalam biography hindi, के बारे में बताया जा रहा है। और इसके अलावा apj abdul kalam ka janmdin, apj abdul kalam ka pura naam, apj abdul kalam family background, apj abdul kalam ka education, apj abdul kalam ko bharat ratn kab mila, apj abdul kalam ko nobel puraskar kab mila, apj abdul kalam ki mishail ke naam, apj abdul kalam bharat ke rashtrapati kab bane, जैसे सवालों के जबाब इस पोस्ट में मिलेगा।



dpj abdul kalam biography hindi



ए पी जे अब्दुल कलाम बायोग्राफ़ि हिन्दी -  

डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम एक भारतीय एयरोस्पेस बैज्ञानिक, और राजनीतिज्ञ थे; उनका जन्म 15 अक्टूबर 1931 को तमिलनाडू के रामेश्वरम में एक मुसलमान परिवार में हुआ था। उनके पिता जैनुलाब्दीन एक नाविक, और स्थानीय मस्जिद के इमाम थे। उनकी माता आशिअम्मा एक गृहणी थी। इनके चार भाई और एक बहन थी जिसमें सबसे छोटे ए पी जे अब्दुल कलाम थे। डॉ कलाम आजीवन कुँवारे थे।

 

उनके पिता रामेश्वरम में आए हिंदू तीर्थयात्रियों को अपने नाव में बैठा कर उन्हें यात्रा कराते थे; उसी से उनके परिवार का भरण पोषण होता था। कलाम बहोत ही गरीब परिवार से थे इसी लिए अपने परिवार का आय, और अपनी पढ़ाई के लिए उन्होने बचपन से ही अखबार बेचना शुरू कर दिया था।

 

कलाम अपने स्कूल के पढ़ाई के समय बहोत ही समान्य छात्र थे; परंतु वे हमेसा से ही एक संघर्षशील और मेहनती छात्र रहें हैं। उनके अंदर सीखने की तीव्र इच्छा हमेसा रहता था। वह हमेसा कुछ नया सीखना और पढ़ना पसंद करते थे; और यही आदतें उन्हें सबसे अलग बनती थी। उन्होने अपने पढ़ाई के समय गणित विषय पर सबसे ज्यादा समय लगाया।

 

कलाम ने अपनी प्रारम्भिक शिक्षा शवार्टज हायर सेकंडरी स्कूल, रामनाथपुरम से पूरी किए। और फिर वर्ष 1954 में तिरुचिरापल्ली के संत जोसेफ कॉलेज से भौतिकी में स्नातक किए। वर्ष 1955 को वे मद्रास चले गए जहां से उन्होने एयरोस्पेस इंजीनियरिंग किए। फिर वर्ष 1960 में मद्रास इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलोंजी से इंजीनियर की पढ़ाई पूरी किए।




एपीजे अब्दुल कलाम उपलब्धियां -

अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई के बाद कलाम डीआरडीएस के सदस्य बने; उसके उपरांत रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (प्रेस सूचना ब्यूरो, भारत सरकार द्वारा) एक वैज्ञानिक के रूप में कम किये। उन्होने अपने करियर की शुरुआत एक हेलीकाप्टर का डिजाइन बना कर किए। DRDS में कम करते हुये भी कलाम को अपने काम से खुशी नही मिल रही थी।


इस दौरान उन्हें अन्तरिक्ष बैज्ञानिक साराभाई के साथ कम करने का मौक्का मिला। वर्ष 1969 में उन्हें स्थांतरित करके भारतीय अन्तरिक्ष अनुसंधान संगठन (ईसरो) में सटेलाइटा लांच व्हिकल परियोजना के निदेशक के तौर पर नियुक्त किया गया। उनकी इस सफलता के बाद; भारत ने वर्ष 1980 में अपना पहला उपग्रह रोहिणी पृथ्वी की कक्षा में स्थापित किया।

 

कलाम जी अपने कार्य की सफलताओं की वजह से सत्तर और अस्सी के दशक में भारत में डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम बहोत ही प्रसिद्ध हो गए।  उनका नाम अब देश के सबसे बड़े वैज्ञानिकों में गिना जाने लगा। उनके इसी प्रसिद्धि और सफलताओं को ध्यान में रखते हुये उस समय की तत्कालीन प्रधानमंत्री इंद्रा गंधीं जी नें उन्हें बिना अपने कैबिनेट के मंजूरी के ही कुछ गुप्त परियोजनाओं पर कार्य करने को दी थीं।

 

भारत के सबसे महत्वपूर्ण इंटीग्रेटेड गाइड मिसाइल डेवलपमेंट प्रोग्राम की शुरुआत डॉ कलाम के देख – रेख में हुआ। और उनकी इस परियोजनाओं ने भारत देश को पृथ्वी और अग्नि जैसी मिसाइलें दीं।

 

 

वर्ष 1992 जुलाई से लेकर वर्ष 1999 तक डॉ कलाम भारत के वैज्ञानिक सलाहकार और ‘DRDO’ के सचिव रहे। इसी दौरान भारत ने अपना दूसरा परमाणु परीक्षण किया जिसमें डॉ कलाम का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। उनके इन्हीं सब कार्यों और मीडिया कवरेज नें उन्हें देश का सबसे बड़ा परमाणु वैज्ञानिक बना दिया। और यही कारण है कि डॉ कलाम को मिसाइल मैन कहा जाता है। डॉ कलाम जी 2002 से लेकर 2007 तक भारत के 11 वें राष्ट्रपति थे।



ए पी जे अब्दुल कलाम का परिवार -

पिता का नाम    जैनुलाब्दीन   

माता का नाम  आशिअम्मा

बड़ी बहन    असीम ज़ोहरा

भाई_1    मो. मुथु मीरा लेब्बाईक मराइकयार

भाई_2   मुस्तफा कलाम

भाई_3   कासिम मोहम्मद

पत्नी       नहीं

बेटा       नहीं

बेटी       नहीं



एपीजे अब्दुल कलाम की किताबें –

डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम जी ने बहोत सारी कितबे लिखेँ है। जो की बहोत ही प्रसिद्धा है, उन्होने कुल मिलकर 25 किताबों को लिखा है।



एपीजे अब्दुल कलाम पुरस्कार -





एपीजे अब्दुल कलाम पुरस्कार
यह फोटो विकिपीडिया से लिया गया है।



ए पी जे अब्दुल कलाम के आविष्कार -

डॉ कलाम जी ने अपने आविष्कार से भारत देश को सुरक्षा मामले में बहोत ही मजबूत हो गया है। उनके द्वारा भारत देश को मिलने वाले कुछ बाड़ें पैमाने के आविष्कार जैसे – ब्रमोस क्रूज मिसाइल, पृथ्वी मिसाइल, अग्नि मिसाइल, त्रिशूल मिसाइल, आकाश मिसाइल। 




एपीजे अब्दुल कलाम मौत -

हमारे देश के महान वैज्ञानिक और एक कुशल राजनीतिज्ञ डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम जी का देहांत 27 जुलाई वर्ष 2015 में शिलाँग में लेक्चर देते समय दिल का दौरा पड़ने की वजह से हुआ।



इसे भी पढ़ें -

डॉ विवेक बिंद्रा बायोग्राफ़ि

संदीप माहेश्वरी का जीवन परिचय

सोनू सूद का बायोग्राफ़ि

एलोन मस्क के बारे में

रतन टाटा सर का जीवन परिचय

बिल गेट्स का जीवनी पढ़ें हिंदी में

नीरज चोपड़ा का जीवन परिचय पढ़ें


आज के इस पोस्ट में आप सभी लोगों ने जाना है; dpj abdul kalam biography hindi, के बारे में और इसके अलावा apj abdul kalam ka janmdin, apj abdul kalam ka pura naam, apj abdul kalam family background, apj abdul kalam ka education, apj abdul kalam ko bharat ratn kab mila, apj abdul kalam ko nobel puraskar kab mila, apj abdul kalam ki mishail ke naam, apj abdul kalam bharat ke rashtrapati kab bane जैसे सवालों के जबाब इस पोस्ट में दिया गया है।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ