नीरज चोपड़ा का जीवन परिचय, भला फेंक एथलीट, ओलंपिक 2021 । Javelin Throw in Hindi, Neeraj Chopra Biography

दोस्तों आज हम इस पोस्ट में Neeraj Chopra Biography के बारे में पढ़ेंगे और साथ ही साथ हम Neeraj Chopra Networth, एवं Neeraj Chopra (Javelin Throw in Hindi) को मिले पुरस्कारों के बारे में जानेंगे और नीरज चोपड़ा के परिवार के बारे में जानेंगे।



Neeraj Chopra Biography Hindi


नीरज चोपड़ा का जीवन परिचय, भला फेंक एथलीट, ओलंपिक 2021 । Javelin Throw in Hindi, Neeraj Chopra Biography -

नीरज चोपड़ा का जन्म जन्म पानीपत हरियाणा  भारत में हुआ नीरज चोपड़ा का जन्म तिथि 24 दिसंबर 1997 है इनके पिता का नाम सतीश कुमार चोपड़ा और माता का नाम सरोज देवी है इनकी दो बहनें हैं और उनका परिवार काफी हद तक कृषि से जुड़ा है, इन्होंने स्नातक की डिग्री दयानंद एंग्लो वैदिक कॉलेज में चंडीगढ़ से ली है और 2021 में जालंधर पंजाब में लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी से कला स्नातक की पढ़ाई कर रहें हैं । 




कैरियर -

नीरज चोपड़ा बचपन में मोटापे के शिकार थे उन्हें बच्चे बहोत चिढ़ाते थे यह बात चोपड़ा के पापा को अच्छी नहीं लगती थी इसलिए चोपड़ा के पिता ने चिपटाऊँ मदलौड़ा व एक व्यायामशाला में दाखिल करा दिया।


व्यामशाला में दाखिल मिलने के कुछ दिन बाद उन्होंने पानीपत में जिम में दाखिल लिया जब नीरज चोपड़ा पानीपत में शिवाजी स्टेडीयम में खेल रहे थे तो उन्होंने  कुछ भाला फेंकने वालों को देखा और उनसे रिक्वेस्ट करके वे भी भाग लेने लगे ।


चोपड़ा ने पास के पानीपत स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया केंद्र का दौरा किया जहाँ भाला फेंकने वाले जयवीर चौधरी ने 2010 की सर्दियों में उनकी शुरुआती प्रतिभा को पहचाना।


चोपड़ा की बिना ट्रेनिंग के 40 मीटर की थ्रो हासिल करने की क्षमता और उनके ड्राइव से प्रभावित होकर चौधरी उनके पहले कोच बने चोपड़ा ने चौधरी से और कुछ और अनुभवी एथलीटों से खेल की मूल बातें सीखीं, जिन्होंने जालंधर में भाला कोच के तहत ट्रेनिंग लिया था ।


उन्होंने जल्द ही अपना पहला पदक जिला चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता और फिर अपने परिवार को अपनी क्षमताओं को विकसित करते हुए उन्हें पानीपत में रहने की अनुमति देने के लिए राजी किया।


चौधरी से एक साल तक प्रशिक्षण लेने के बाद 13 वर्षीय चोपड़ा को पंचकूला के ताऊ देवी लाल स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में भर्ती कराया गया था चोपड़ा ने आम तौर पर लगभग 55 मीटर का थ्रो हासिल किया लेकिन जल्द ही अपनी सीमा बढ़ा दी और लखनऊ में राष्ट्रीय जूनियर एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 27 अक्टूबर 2012 को 68.40 मीटर के नए राष्ट्रीय रिकॉर्ड थ्रो के साथ स्वर्ण पदक जीता।



अंतरराष्ट्रीय शुरुआत -

2013 में चोपड़ा ने यूक्रेन में अपनी पहली अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता विश्व युवा चैंपियनशिप में प्रवेश किया उन्होंने 2014 और में अपना पहला अंतरराष्ट्रीय  पदक बैंकोक में युवा ओलंपिक योग्यता में एक रजत जीता।


उन्होंने 2014 के वरिष्ठ नागरिकों में 70 मीटर से अधिक का अपना पहला थ्रो हासिल किया नीरज चोपड़ा के दाहिनी कोहनी में हड्डी के फड़कने के कारण दोहा में 2019 विश्व चैंपियनशिप खेलने से चूक गए।


सर्जरी के बाद नीरज चोपड़ा ठीक हुए और 16 महीने के अंतराल बाद  नीरज चोपड़ा ने Northwestern League में 87.86 मीटर की थ्रो जीत गए और उसके बाद अफ़्रीका में 85 मीटर का भाला फ़ेक कर जीत हासिल की।


4 अगस्त 2021 को चोपड़ा ने ओलंपिक में अपनी शुरुआत की जापान नेशनल स्टेडियम में भारत का प्रतिनिधित्व किया उन्होंने 86.65 मीटर के थ्रो के साथ फाइनल में प्रवेश के लिए अपने क्वालीफाइंग ग्रुप में शीर्ष स्थान हासिल किया।


नीरज चोपड़ा ने अपने दूसरे प्रयास में 87.58 मीटर के थ्रो के साथ 7 अगस्त को फाइनल में स्वर्ण पदक जीता एथलेटिक्स में स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय ओलंपियन और एथलेटिक्स में स्वतंत्रता के बाद पहले भारतीय ओलंपिक पदक विजेता बने।


कुछ इतिहासकारों के अनुसार, चोपड़ा भारत के लिए ट्रैक एंड फील्ड में पहले ओलंपिक पदक विजेता हैं.




पुरस्कार वा सम्मान -

  • राष्ट्रीय जूनियर चैम्पियनशिप गोल्ड मेडल - 2012
  • राष्ट्रीय युवा चैम्पियनशिप रजत पदक - 2013
  • तीसरा विश्व जूनियर अवार्ड - 2016 
  • एशियन एथेलेटिक्स गोल्ड मेंडल - 2017
  • एशियाई खेल स्वर्ण गौरव - 2018
  • अर्जुन पुरस्कार - 2018
  • विशिष्ट सेवा पदक (गणतन्त्र दिवस सम्मान) - 2020





नीरज चोपड़ा की उम्र एवं व्यक्तिगत जानकारी (Age and Persional Detail) -

पूरा नाम  - नीरज चोपड़ा

जन्म 24 दिसंबर 1997

जन्म स्थान   -   पानीपत हरियाणा

उम्र     -   23

शिक्षा   -    स्नातक

ऊंचाई    -   (6 फीट)

विश्व रैंकिंग  -  चौथा स्थान

धर्म    -  हिंदू

नेट वोर्थ   -  5 मिलियन के लगभग

कोच    -  उवे होन

 

 


नीरज चोपड़ा का परिवार -

पिता का नाम   -   सतीश कुमार चोपड़ा

माता का नाम   -   सरोज देवी

बहन का नाम   -   संगीता

छोटी बहन का नाम – सरिता

भाई   -   नहीं




नीरज चोपड़ा को मिली राशि एवं उपहार - 

  • हरियाणा के लिखा मंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा  -  6  करोड़ रुपये
  • हरियाणा सरकार के द्वारा A ग्रेड की सरकारी नौकरी
  • पंजाब के मुख्य मंत्री दमृणेरस सिंह द्वारा  -  2  करोड़ रुपये
  • BCCI TRAM द्वारा - 1 करोड़ रुपये
  • मणिपुर सरकार द्वारा - 1 करोड़ रुपये
  • चेन्नई सुपर किंग द्वारा  - 1 करोड़ रुपये
  • BYJU’s द्वारा - 2 करोड़ रुपये
  • इंडिगो ने एक साल तक फ़्री हवाई यात्रा
  • गो फ़र्स्ट ऐरवयस ने पाँच साल तक फ़्री हवाई यात्रा पास दिया
  • महिंद्रा मोटेर्स ने SUV XUV 700 कार



इसे भी पढ़ें -

रतन टाटा की जीवनी पढ़ें

एलोन मस्क के बारे में पढ़ें

डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम का बायोग्राफ़ि पढ़ें

डॉ विवेक बिंद्रा का जीवन परिचय पढ़ें हिन्दी में



Sameer Roy

समीर रॉय हिंदी स्पाइडर के एक कुशल लेखक हैं इनकी रुचि हिंदी भाषा में है। ये हिंदी स्पाइडर के लिए बहोत सारी विषयों पर लिखते हैं। इनके इस प्रयासों से हिंदी स्पीडर एक सफल वेबसाइट है और लोगों की मदत करता है।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ